Politics

2 लाख से ज्यादा नगद लेन-देन पर लगेगा 100 फीसदी जुर्माना

कालेधन पर पूरी तरह लगाम लगाने के लिए सरकार ने नकद लेनदेन की सीमा को तीन लाख से घटाकर दो लाख रुपए करने का प्रस्ताव सदन में रखा है। नए प्रस्‍ताव के मुताबिक, दो लाख रुपए से ज्यादा नगद लेनदेन करने पर 100 फीसदी जुर्माने का प्रावधान है।


आपको बता दें कि इससे पहले सरकार ने बजट सत्र के दौरान कैश में ज्यादा से ज्यादा 3 लाख रुपए की लिमिट रखी थी। अगर इससे बड़ी रकम का नकद लेनदेन की जाती है तो सरकार 1 अप्रैल 2017 से उसपर पेनाल्टी लगाएगी।

 
राजस्व सचिव हसमुख अधिया ने जानकारी देते हुए बताया कि यह प्रावधान लोगों को बड़ी राशि के नकद लेनदेन से रोकने के लिए लाया गया है। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने मंगलवार को वित्तीय बिल पेश किया। अब सरकार को इस पर संसद मंजूरी लेनी होगी।

 
अधिया ने कहा, कि नकद लेन-देन करने पर भारी जुर्माना लगेगा। अगर कोई व्यक्ति दो लाख से अधिक की राशि कैश में लेता है, तो उसे उतनी ही राशि बतौर जुर्माना देनी होगी। सरकार ने इस वित्त विधेयक में करीब 40 संशोधन पेश किए हैं।
नए नियम के मुताबिक, अगर आप तीन लाख रुपए कैश लेते हैं तो आपको तीन लाख रुपए का ही जुर्माना देना होगा। ये जुर्माना उसी व्यक्ति को भरना होगा, जो नकद स्वीकार करेगा।
खरीदारी में बढ़ी मुश्किलें
इस नियम के बाद देश में किसी भी दुकानदार के लिए किसी एक ग्राहक से 2 लाख रुपए से अधिक कैश लेना मुश्किल हो जाएगा। लिहाजा, अब 2 लाख रुपए से अधिक किसी बिक्री में ग्राहकों से अधिक रकम का पेमेंट ऑनलाइन, डिजिटल अथवा चेक से लेने की मजबूरी होगी।

Related Articles