Spiritual

कर्ज से मुक्ति के लिए अवश्य आजमाएं ये सरल उपाय नवरात्रि में

चैत्र नवरात्रि को सिद्ध नवरात्रि माना जाता है। इन 9 दिनों में मां अंबे की कृपा से ऐसे संयोग बनते हैं जिनमें यदि सही तरह से पूजन-पाठ किया जाए तो मनवांछित फल प्राप्त होते हैं। यदि कोई जातक कर्ज से परेशान है तो निम्न उपायों को पूरी श्रद्धा और भक्ति से किया जाए तो प्रत्येक प्रकार के कर्ज से मुक्ति मिलती है।

 


आटे से उपाय– नवरात्रि में गेहूं आटे को स्वच्छ जल में गूंथकर उसकी एक लोई बना लें व इसे बहते जल में प्रवाहित कर दें। मान्यता है कि ऐसा करने से मां की कृपा होती है व जल्द ही अच्छे परिणाम मिलने लगते हैं।
कमलगट्टे से उपाय- कमलगट्टे को पीसकर उसमें देशी घी से बनी सफेद बर्फियां मिलाकर इसकी 21 आहूतियां दें।

 

 

गुलाब के फूलों से उपाय- एक सफेद वस्त्र लें और इसमें 5 फूल गुलाब के, 1 चांदी का टुकड़ा, कुछ चावल व थोड़ा गुड़ रखकर इसे बांध लें। अब 21 बार सही उच्चारण करते हुए गायत्री मंत्र का पाठ करें व कर्ज से मुक्ति की कामना करते हुए इसे पानी में बहा दें।
लौंग व कपूर से उपाय- कमल के फूल की पत्तियां लें। अब इन पर मक्खन व मिस्री लगाएं। अब 48 लौंग व 6 कपूर की माता को आहूति दें। मान्यता है कि ऐसा करने से जल्द ही कर्ज का बोझ कम होने लगता है।
इसके अलावा नवरात्र के प्रारंभ में केले के पेड़ की जड़ में चावल, रोली, फूल, पानी अर्पित करें व नवमी वाले दिन इसी पेड़ की थोड़ी-सी जड़ अपनी तिजोरी में रखें। मान्यता है कि इससे धन में वृद्धि होने लगती है।
रोली, चावल, फूल, धूप, दीप आदि से पीली कौड़ी अथवा हरसिंगार की जड़ की पूजा कर उसे धारण कर लें, धारण न करना चाहें तो जेब में भी रख सकते हैं। कर्ज से मुक्ति के लिए यह उपाय भी कारगर सिद्ध होता है।

Tags

Related Articles