Spiritual

अगर पैसे नहीं रुकते आपके पास तो हर शुक्रवार राशि अनुसार करे ये पूजन !

इसमें कोई शक नहीं कि आज के समय में व्यक्ति अमीर बनने के लिए कुछ भी कर सकता है. जी हां आज कल तो रोडपति भी करोड़पति बनने के सपने देखता है. अब सपने देखने में क्या बुराई है. वैसे भी धनवान बनने की इच्छा तो सब की होती है. ऐसे में ज्यादा पैसे कमाने के चक्कर में व्यक्ति दिन रात मेहनत करता है.  तो वही कुछ लोग जल्दी पैसा कमाने के लिए और अमीर बनने के लिए कई तरह के रास्ते अपनाते है.

 

मगर अब आपको अमीर बनने के लिए कोई भी ऐसा वैसा रास्ता अपनाने की जरूरत नहीं है. वो इसलिए क्यूकि यदि आप धन की अधिष्ठाती देवी को प्रसन्न कर ले तो दुनिया की कोई भी ताकत आपके अमीर बनने को सपने को पूरा होने से नहीं रोक सकती. यूँ तो देवी लक्ष्मी की रोज पूजा करना काफी सुखदायी माना जाता है. पर गौरतलब है, कि शुक्रवार के दिन अपनी राशि के अनुसार माँ के विभिन्न स्वरूपों की ही पूजा करनी चाहिए.

 

आपको बता दे कि नियमित धन की प्राप्ति के लिए माँ लक्ष्मी के उस स्वरूप की स्थापना करे, जिसमे उनके हाथो से धन गिर रहा हो. इसके बाद चित्र के सामने घी का एक बड़ा सा दीपक भी जलाएं. फिर उनको इत्र समर्पित करे और वही इत्र नियमित रूप से प्रयोग करे. गौरतलब है, कि वृष, कन्या और मकर राशि वालो के लिए धन लक्ष्मी की पूजा करना विशेष लाभकारी होता है.

 

इसके इलावा कारोबार में धन की प्राप्ति के लिए गज लक्ष्मी की पूजा करनी चाहिए. जी हां सबसे पहले लक्ष्मी जी के ऐसे स्वरूप की स्थापना करे, जिसमे उनके दोनों तरफ उनके साथ हाथी हो. फिर लक्ष्मी जी के सामने घी के तीन दीपक जलाएं और एक गुलाब का फूल भी अर्पित करे. फिर पूजा करने के बाद इसी फूल को अपने धन रखने वाले स्थान पर रख दे. साथ ही ध्यान रखे कि रोज इस गुलाब को बदले. बता दे कि मीन, वृष, कन्या, धनु और मकर राशि के कारोबारी लोगो के लिए गजलक्ष्मी की पूजा ही विशेष होती है.

 

 

इसके इलावा नौकरी में धन की वृद्धि करने के लिए ऐश्वर्य लक्ष्मी की पूजा करनी चाहिए. ऐसे में गणेश जी के साथ लक्ष्मी जी की स्थापना करे. फिर लक्ष्मी जी के चरणों में अष्टगंध अर्पित करे और रोज स्नान के बाद इसी अष्टगंध का तिलक लगाएं. बता दे कि कर्क, मीन और वृश्चिक राशि के लोगो के लिए ऐश्वर्य लक्ष्मी जी की पूजा विशेष रहती है.

 

इसके साथ ही धन के नुकसान से बचने के लिए वर लक्ष्मी जी की पूजा करनी चाहिए. इसमें लक्ष्मी जी के उस स्वरूप की स्थापना करे, जिसमे वह खड़ी हो और धन दे रही हो. इसके बाद उनके चरणों में रोज एक रूपये का सिक्का अर्पित करे. इसके इलावा इन सिक्को को जमा करते रहे और महीने के आखिर में इसे किसी सौभाग्यवती स्त्री को दे दे. बता दे कि मेष, सिंह और धनु राशि के लोगो के लिए वरलक्ष्मी के स्वरूप की उपासना करना अद्धभुत माना जाता है.

 

इसके इलावा धन की बचत करने के लिए धान्य लक्ष्मी की पूजा करे. इसमें माँ लक्ष्मी के उस स्वरूप की स्थापना करे, जिसमे उनके पास अनाज की ढेरी हो या चावल की ढेरी पर खुद लक्ष्मी जी का स्वरूप स्थापित करे. फिर उनके सामने घी का दीपक जलाएं. इसके बाद उन्हें चांदी का सिक्का अर्पित करे. फिर पूजा करने के बाद इस चांदी के सिक्के को अपने धन रखने वाले स्थान पर संभाल कर रख दे. गौरतलब है, कि मिथुन, तुला और कुम्भ राशि वालो के लिए धान्य लक्ष्मी के स्वरूप की आराधना करना विशेष माना जाता है.”

 

 

Related Articles