Spiritual

आपके बनते बनते काम बिगड़ जाते हैं तो क्या आपकी कुंडली में सूर्य दोष तो नहीं, जानिए निवारण

सूर्यदेव की उपासना करने से व्यक्ति को समाज में मान प्रतिष्ठा की प्राप्ति होती है। सूर्य देव की पूजा का विशेष दिन है रविवार। अगर आपकी कुंडली में सूर्य का दोष है तो रविवार के दिन सूर्य उपासना अवश्य करनी चाहिए। वहीं सूर्य उपासना करते समय विशेष मंत्र का जाप भी करना चाहिए। विशेष मंत्र के साथ पूजा करने से सूर्य देव बहुत ही जल्द प्रसन्न हो जाते हैं। वैसे तो शास्त्रों में सूर्य पूजा के लिए कई मंत्र बताए गए हैं, लेकिन रविवार के दिन सूर्यदेव को जल अर्पित करते समय निम्न मंत्र का जाप करना चाहिए।

 

 

ऐसे करें सूर्य देव को प्रसन्न :-
रविवार को सुबह जल्दी उठकर स्नान करें। स्नान करने के बाद सूर्य देव को जल अर्पित करें। इसके बाद सूर्य देव को लाल पुष्प, लाल चंदन, गुड़हल का फूल, चावल अर्पित करें।

 

साथ ही अपने माथे पर लाल चंदन से तिलक लगाएं। गुड़ या गुड़ से बनी मिठाई सूर्य देव को अर्पित करें। पवित्र मन से नीचे दिए हुए सूर्य मंत्र का जाप करें। यह मंत्र ’राष्ट्रवर्द्धन’ सूक्त से लिए गए है।

 

ऊं खखोल्काय शान्ताय करणत्रयहेतवे।
निवेदयामि चात्मानं नमस्ते ज्ञानरूपिणे।।
त्वमेव ब्रह्म परममापो ज्योती रसोमृत्तम्।
भूर्भुवः स्वस्त्वमोङ्कारः सर्वो रुद्रः सनातनः।।

Related Articles