Health

आपके दांतों पर ज़मी मैल, बस चुटकी में निकालें यह, मोती जैसे उठेंगे

आज कल हर कोई दातों के पीलेपन और उनपर जमी हुई मैल से परेशान रहता है। तंबाकू, गुटखा और पान मसाला खाने वालों में ऐसी समस्या ज्यादा देखने को मिलती है। ऐसे लोग दातों पर पड़े पीले व काले निशानों के निकालने के लिए लाख कोशिश करते हैं लेकिन उनकी परेशानी का कोई ठोस हल नहीं निकलता। अगर आपके साथ या आपके किसी दोस्त के साथ ऐसा हो रहा है तो हम आपको 13 ऐसी चीजों के बारे में बताने जा रहे हैं जिसके इस्तेमाल से आपके दांतों पर जमी हुई मैल चुटकी में निकल जायेगी। इन चीजों के इस्तेमाल से दातों पर पर पड़ने वाले दाग को पूरी तरह से हटाया जा सकता है।

 

 

दातों पर जमी मैल को साफ करने के लिए नींबू, पानी और मिंट ऑयल का एक मिश्रण तैयार करे और इसकी रोजाना एक-एक बूंद दातों पर लगाएं। दातों पर जमी मैल को साफ करने के लिए आधा कप रोजमेरी और एक कप मिंट को 2 कप पानी में डालकर उबालें। इसे उबालने के बाद इसके पानी को छानकर अलग कर लें। फिर थोड़ा ठंडा होने के बाद इस पानी को कुल्ला करें। दातों पर जमी मैल धीरे धीरे खत्म हो जायेगी।

 

 

फ्लॉसिंग यानि एक धागे से दांतों को साफ करने जमी हुई मैल को निकलने का बेहतर तरीका है। अगर आपके टूथब्रश से दातों पर जमी मैल साफ नही हो रही है तो इसे एक बार आजमा कर देख लें। वैसे तो नारियल का तेल कई चीजों के लिए इस्तेमाल किया जाता है लेकिन दातों पर जमी मैल और कालेपन को खत्म करने में यह बेहद असरदार है।
ब्रश करने के लिए हम जो टूथपेस्ट यूज़ करते हैं उसका भी हमारे दातों पर काफी असर पड़ता है। इसलिए कोई भी टूथपेस्ट खरीदने से पहले देख लें कि वह फ्लोराइड हो।
एलोवेरा जेल, ग्लिसरीन, बैकिंग सोडा और लेमन को पानी मिलाकर पेस्ट बनाए और इसे ब्रश करें। ऐसा करने से दातों पर जमी मैल खत्म होती है। ये बात तो हम सभी जानते हैं कि संतरे में पाये जाने वाला एंटी ऑक्सीडेंट दातों को साफ करने में बेहद कारगर है। संतरे के पील यानी उसके रस को मुँह के अंदर कुछ देर तक रखें।

 

दातों को काला या पिला होने से बचाने के लिए अधिक मात्रा में फल-सब्जियों का सेवन करें। इससे जंक फूड से जमने वाली मैल का खतरा कम होता है। दातों पर जमी मैल को दूर करने के लिए महिने या हफ्ते में एक बार तिल चबाये। ऐसा करने से दातों पर जमी मैल खत्म होती है। अंजीर को बेहद अवश्यक पोषक तत्व माना गया है। अंजीर दातों में जमी कैविटी को खत्म करता है। नियमित रुप से अंजीर का सेवन करने से भी दातों पर जमी मैल खत्म होती है।

 

नींबू में एंटी-बैक्टीरियल गुण पाये जाते हैं। नींबू के इस्तेमाल से दांतों में जमी काली पीली परत खत्म होती है। ब्रश करने से पहले नींबू के रस में अपने ब्रश को एक बार डुबा लें। नीम का स्वाद भले ही कड़वा हो लेकिन यह हर तरह से गुणकारी है। नीम बैक्टीरिया को दूर करता है। नीम की टहलनी को तोड़कर उससे ब्रश करें। बेकिंग सोडा से ब्रश करने पर दातों पर जमी मैल जल्द खत्म होती है। बेकिंग सोडा का इस्तेमाल हल्के गर्म पानी के साथ करें।

Related Articles